नौकरी करने वाले लोगो को लगता है कि व्यवसाय करना अच्छा होता है वह व्यवसाय करने वाले लोगों को लगता है कि नौकरी करना अच्छा होता। सभी कोई के दिमाग में बिजनेस और नौकरी को लेकर अलग-अलग राय होती है। कुछ लोगों को लगता है कि बिजनेस करना पैसे कमाने के लिए सबसे अच्छा तरीका है। वही कई लोग ऐसे हैं जिन्हें लगता है कि पैसे कमाने के लिए नौकरी करना सर्वश्रेष्ठ है।

आपको बिजनेस करना चाहिये या नौकरी यह बहुत सी चीजों पर निर्भर करती है। सबसे जरूरी तो यह कि आप क्या करना चाहते हैं। बहुत से लोग अपने जीवन में राय नहीं बना पाते हैं कि उन्हें बिजनेस करना है या फिर नौकरी। आज किस पोस्ट में हम आपको बिजनेस और नौकरी दोनों के बारे में बतायेंगे।हम यह भी बताएंगे की नौकरी और बिजनेस करते समय आपको कौन सी चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है।और हम यह भी जानेंगे कि पैसे कमाने के लिए दोनों में से आपके लिए कौन अच्छा है। इस पोस्ट को पूरा पढ़ने के बाद आपको एक आइडिया मिल जाएगा कि आपके लिए बिजनेस सही है या फिर नौकरी करना।

पहले हम यह जानते हैं कि नौकरी करने में हमें किन चुनौतियों का सामना करना पड़ेगा ओर नौकरी करने के क्या फायदे है। और उसके बाद हम जानेंगे कि बिजनेस करने में हमें किन चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है, और बिज़नेस करने के क्या फायदे है।

नौकरी करने में चुनौती और फायदे

नौकरी उन लोगों के लिए है जो लोग किसी एक स्किल में माहिर होते हैं और उसी का फिक्र करते हैं। जैसे कि अगर कोई इंजीनियर है तो वह अपने इंजीनियरिंग के काम में माहिर होगा। उसे बस एक नौकरी चाहिए जिसमें वह अपना कार्य क्षमता दिखा सके। वे जिस कंपनी या संस्था में काम करते हैं उससे उन्हें कोई मतलब नहीं होता। बस उन्हें अपने काम और तनख्वाह से मतलब होता है।

नौकरी करने वाले लोगों के लिए पहले से ही एक तनख्वाह तय की जाती है। और उन्हें उतना ही तनख्वाह मिलता है। वे जिस कंपनी या संस्था के लिये काम करते है उसके फायदे और नुकसान से उन्हें फर्क नही पड़ता क्योंकि उनका तनख्वाह बंधा हुआ होता है।

एक अच्छी नौकरी पाने के लिए आपको अच्छे से पढ़ाई करनी पड़ेगी। आपको जिस क्षेत्र में नौकरी करना है उस क्षेत्र से समन्धित विषयों पर पूरे लग्न के साथ पढ़ाई पूरी करनी होती है। और पढ़ाई खत्म करने के बाद नौकरी मिल ही जायेगी इसकी पूरी संभावना नही है। क्योंकि नौकरी पाने के लिये आपको प्रतियोगिता से गुजरना होगा। प्रतियोगिता में पास होने के लिये आपको कठिन मेहनत करनी पड़ेगी। क्योंकि लाखों लोग एक ही नौकरी के लिये प्रतियोगिता में भाग लेते हैं।

बिजनेस करने में चुनौती और फायदे

बिजनेस की बात की जाय तो यह उन लोगों के लिये है जो जिंदगी में अपने ढंग से कुछ करना चाहते है। बिजनेस करने वाला व्यक्ति मालिक की तरह होता है। वह अपने तरह का कोई बिजनेस करता है और अपनी जिंदगी चलाता है। वह कितना कमाता है यह निश्चित नही होती है। क्योंकि यह उसके व्यसाय पर निर्भर करता है। अगर व्यसाय अच्छा चल रहा हो तो वह खूब कमाता है। और वहीं अगर व्यवसाय मन्दा पड़ जाये तो उसकी कमाई बहुत कम या नही भी हो सकती है।

वह बिजनेस में कितनी तरक्की करेगा यह उसके ऊपर ही निर्भर करता है। जितनी कुशलता से वह बिज़नेस करेगा उतना वह कमायेगा। क्योंकि सब कुछ उसके जिम्मा में है इसलिए वह बिजनेस के मंदा पड़ने पर तनाव में रह सकता है। वही अगर सबकुछ ठीक रहे तो वह काफी तरकी भी कर सकता है। ऐसा भी हो सकता है कि कभी आपका बिजनेस ठप भी हो जाए। इसलिये बिजनेस उन लोगों के लिए है जो रिस्क ले सकते हैं।

बिजनेस करने के लिए कोई पढ़ाई करना जरूरी नहीं है।लेकिन आपको बुद्धिमान होना जरूरी है इसके साथ ही यह भी जरूरी है कि आप बिजनेस की दुनिया से वाकिफ हो। आपको दुनियादारी अच्छे से आती हो। बिजनेस में भी आपको प्रतियोगिता का सामना करना पड़ सकता है। और बिजनेस के डूबने का भी खतरा बना रहता है। इसलिए बिजनेस करना हर कोई के बस की बात नहीं है।

बिजनेस या नौकरी आपको लिये क्या सही है

अब तक आप समझ गए होंगे कि बिजनेस और नौकरी में क्या फायदा और नुकसान हो सकते हैं। आपके मन में यह विचार भी आ गया होगा कि आपके लिये क्या सही है। नौकरी और बिजनेस दोनों अपनी जगह सही है। लेकिन आप वही करें जिसे करने से आपको खुशी मिलेगी। अगर आप बिजनेस करना चाहते हैं तो नौकरी ना ही करें ।और वही अगर आपका मन कोई नौकरी करने को है तो आप बिज़नेस न करे।

बिजनेस उन लोगों के लिए है जो रिस्क उठा सकते हैं। वही नौकरी उन लोगों के लिए है जो बहुत मेहनत से पढ़ाई लिखने कर सकते हैं और कंपटीशन निकाल सकते हैं। अगर सही से किया जाए तो बिजनेस से आप बहुत पैसा कमा सकते हैं। नौकरी में आपकी सैलरी पहले से तय रहेगी। बिजनेस में उतार चढ़ाव होते रहेंगे जिससे आपके मानसिक स्थिति पर दबाव पड़ सकता है। नौकरी में आपको बस अपने कार्य का बोझ धोना होगा। किसी बिज़नेस का बोझ नहीं।


Leave a Reply